web hosting kya hoti hai | वेब होस्टिंग के प्रकार

web hosting kya hoti hai > दोस्तों क्या जानते हैं कि web hosting kya hoti hai और web hosting  कितने प्रकार की होती है अगर आप नहीं जानते तो इस आर्टिकल में बने रहे हैं क्योंकि हम आपको बताएंगे वेब होस्टिंग क्या होती है और web hosting kya hoti hai

अगर आप एक ब्लॉगर हैं तो आपको वेब होस्टिंग के बारे में जानना काफी जरूरी है अगर आप ब्लॉगर नहीं है तब भी आपको web hosting के बारे में जानना चाहिए क्योंकि अभी के समय में सब कुछ डिजिटल हो गया है और आने वाले समय में और भी ज्यादा आपको सब कुछ डिजिटल देखने को मिलेगा इसके लिए आपको इन सब चीजों के बारे में बेसिक नॉलेज होना चाहिए

दोस्तों जिस प्रकार घर को बनाने के लिए जमीन की जरूरत पड़ती है उसी प्रकार किसी भी वेबसाइट को बनाने के लिए एक web hosting की जरूरत पड़ती है और अभी के समय में गूगल पर जाकर आप फ्री में भी वेबसाइट बना सकते हैं लेकिन उसमें आपको कुछ साधन सीमित दिए जाते हैं लेकिन अगर web hosting खरीद  कर बनाते हैं तो इसमें आपको एडवांस फ्यूचर दिए जाते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अपनी वेबसाइट को काफी अच्छे से कस्टमाइज कर सकते हैं

वेब होस्टिंग क्या है? (What is web hosting in Hindi?)

web hosting वाह होती है जहां पर हम हमारी वेबसाइट के इमेज  वीडियो और टेक्स्ट कंटेंट  को अपलोड करते हैं और इसी पर हमारी वेबसाइट का सारा डाटा उपलब्ध रहता है जब भी कोई  हमारी वेबसाइट पर विजिट करता है तो वह web hostingके द्वारा ही उसे डांटा दिखाया जाता है

और यह 24 घंटे इंटरनेट से कनेक्ट रहती है यानी कि कभी भी कोई भी यूजर कुछ भी सर्च करता है और वाह आपकी  वेबसाइट पर होता है तो वह गूगल में वाह रिजल्ट्स होता है जैसे ही वाह क्लिक करता है वह web hosting आपकी वेबसाइट का जो भी रिजल्ट्स होता है उसे दिखा देती है

वेब होस्टिंग कितने प्रकार के होते हैं? Types of web hosting in Hindi

web hosting चार प्रकार की होती हैं और इन web hosting का अपना-अपना अलग-अलग इस्तेमाल होता है आप अपनी जरूरत के हिसाब से इनमें से किसी को भी इस्तेमाल कर सकते हैं

वेब होस्टिंग के प्रकार:

  • Shared
  • Dedicated
  • VPS
  • Cloud

चलिए अब इन्हें थोडा विस्तार से समझते हैं:

1. Shared Hosting 

Shared Hosting वह hosting  होती है जैसा कि आपने नाम से ही समझ गए होंगे कि शेयर यानी कि एक चीज को बहुत सारे लोगों के बीच बांटना और शेयर्ड होस्टिंग भी ऐसे ही होती है इसमें एक सीमित सीपीयू दिया होता है उसमें जितनी भी वेबसाइट होती हैं बाह इन सब सीपीयू और रैम का इस्तेमाल करती हैं और अगर आप एक न्यू ब्लॉगर है

और आपकी वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक  नहीं आता तो आप इस Shared Hosting  का इस्तेमाल कर सकते हैं शेयर्ड होस्टिंग का इस्तेमाल जब तक ही किया जा सकता है जब तक आप की वेबसाइट पर आपको ज्यादा डाटा उपलब्ध नहीं है अगर आपकी वेबसाइट पर ज्यादा  डाटा उपलब्ध है तो आपको शेयर hosting का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए

2. Dedicated Hosting:

डेडीकेट होस्टिंग Shared Hosting  की तरहा काम करती है लेकिन यह  Shared Hosting  से थोड़ी अलग होती है इसमें आपको 1 सर्वर दिया जाता है और उस सर्वर पर आपको कुछ सीमित साधन दिए जाते हैं यानी कि आपको निश्चित सीपीयू और एसएसडी स्टोर्स और रेम दी जाती है और आपकी वेबसाइट उससे ज्यादा यूज़ नहीं कर पाती यानी कि आपको जितने भी रिसोर्स दिए जाते हैं उनका इस्तेमाल केवल आप ही कर सकते हैं आपके अलावा दूसरी वेबसाइट नहीं कर सकती और वेबसाइट बनाने के लिए यह होस्टिंग भी ठीक होती है

3.VPS (Virtual Private Server) Hosting: 

Virtual Private Server में आपको पूरा का पूरा एक सर्वर दिया जाता है इस सर्वर का इस्तेमाल केवल आप ही कर सकते हैं इसके अलावा इसका इस्तेमाल किसी भी दूसरी वेबसाइट के लिए नहीं किया जाता और इस सर्वर पर आप काफी अच्छा ट्रैफिक हैंडल कर सकते हैं

यानी कि जो बड़ी-बड़ी वेबसाइट होती हैं वह इसी सर्वर का इस्तेमाल करती हैं और अगर आप छोटे मोटे ब्लॉगर  हैं और आपकी वेबसाइट पर थोड़ा बहुत ट्रैफिक आता  है तो आपको यह होस्टिंग नहीं लेनी चाहिए क्योंकि यह होस्टिंग काफी ज्यादा महंगी होती हैं

4. Cloud Hosting

दोस्तों जितने भी बड़े बड़े  ब्लॉगर हैं वाह सभी क्लाउड होस्टिंग का इस्तेमाल करते हैं क्योंकि इस स्टिंग के उपयोग के कई सारे फायदे हैं जैसा कि इसके नाम से है क्लाउड होस्टिंग मतलब कि इसके कई सारे सर्वर  मिलते हैं आपको यह सर्वर सभी जगह पर मौजूद होते हैं जिसके कारण आपकी वेबसाइट की डाउन टाइम काफी कम हो जाता है और अगर कोई विजिटर आपकी वेबसाइट में विजिट करता है तो बाह डाटा इंडिया के सर्वर  से ही दिखाता है

जिसके कारण आपकी वेबसाइट की स्पीड काफी अच्छी होती है अगर कोई विजिटर आपकी वेबसाइट पर यूएसए से आता है तो उसे यूएसए के सर्वर से ही डांटा दिखाया जाता है मतलब कि क्लाउड होस्टिंग का डाउन टाइम जीरो होता है क्योंकि इसमें कई सारे सर्वर काम करते हैं अगर यह सब फेल हो जाता है

तो दूसरा सर्वर उसकी काम करता रहता है जिसके कारण आपकी वेबसाइट कभी भी डाउन नहीं होती और यह सबसे अच्छी होस्टिंग मानी जाती हैं हालांकि यह थोड़ी महंगी जरूर होती है लेकिन इसका इस्तेमाल करके आप अपनी वेबसाइट की स्पीड काफी तेज कर सकते हैं और आपकी वेबसाइट कभी भी डाउन नहीं जाएगी

 

final word web hosting kya hoti hai

दोस्तों हमने हमारे इस आर्टिकल में आपको बताया है कि web hosting kya hoti hai और हमारे लिए कौनसी hosting बेस्ट रहेगी अगर आपको लगता है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी सही है और इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको समझ आ गया है की कौन सी hosting आपके लिए फायदेमंद रहेगी तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारे द्वारा लिखा आर्टिकल कैसा लगा धन्यवाद

Leave a Comment

error: Content is protected !!